विगत पांच सालों में महाराष्ट्र पुलिस का कार्य उत्कृष्ट – मुख्यमंत्री


मुंबई (टाईम न्युजलाईन नेटवर्क): महाराष्ट्र पुलिस की प्रतिमा देश में अच्छी है. यह प्रतिमा अधिक ऊंची करने के और उसके लौकिकता में बढ़त करना है. इसके लिए सरकार पुलिस विभाग के साथ हमेशा पूर्ण ताकद के साथ हैऐसा  मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज यहां कहा. विगत पांच साल में  महाराष्ट्र पुलिस की कामगिरी उत्कृष्ट रही हैऐसा गौरवोद्गार भी उन्होंने निकाला. राज्य के पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की दो दिवसीय परिषद के उद्घाटन अवसर पर वे बोल रहे थे.
इस अवसर पर गृह राज्यमंत्री (ग्रामीण) दीपक केसरकरगृह राज्यमंत्री (शहर) डॉ. रणजित पाटिलमुख्य सचिव अजोय मेहतागृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजय कुमारपुलिस महासंचालक सुबोधकुमार जयस्वाल मंच पर उपस्थित थे.
मुख्यमंत्री श्री. फडणवीस ने कहाराज्य पुलिस दल बड़ी क्षमतायुक्त देश का एकमात्र दल है. इसलिए पिछले कई सालों  के अनुभव को देखते हुए  इस दल ने अपनी सतर्कता और सजगता से कई अप्रिय घटनाओं को टालने में बड़ा कार्य किया है. संवाद के जरिये कई बातों को हासिल किया जा सकता हैयह साबित किया है. कानून और सुव्यवस्था रखना और सेवा देने का कर्तव्य पूरा करना पड़ता है. इसलिए शासक नहीं बल्कि सेवक के रूप में काम करना होगा. यह बदलाव स्वीकार कर लोकाभिमुखता बढ़ानी होगी. नागरिक,जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद साधकर कई मुद्दों को साध्य किया जा सकता हैयह ध्यान में लेना होगा. 
अपराध सिद्धी का प्रमाण बढ़ने की बात को बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा किअपराध सिद्धी का प्रमाण बढ़ रहा है. लेकिन मामूली अपराधों में पकड़े गए माल को वापस दिलाने के लिए कार्यपद्धति निर्माण करनी होगी. इससे आम नागरिकों में विश्वास निर्माण होगा.  किसी भी स्थिति में पुलिस की प्रतिमा मलीन न हो इसके लिए प्रयास करने होंगे. इसके लिए ही तकनीकी का  आग्रह किया जा रहा है. तकनीकी के कारण पारदर्शकता आती है और विश्वासार्हता बढ़ती है.
आगामी समय में त्यौहारउत्सव और चुनाव के दौरान कुछ बुरी ताकते बुरी घटनाओं को अंजाम देने का प्रयास करती है. उनपर शिकंजा कसा जाए. त्यौहारउत्सव शांतिपूर्ण वातावरण में पूर्ण होने के लिए सुसंवाद बढ़ाएलोगों में सुरक्षा के उपायों के बारे में विश्वास निर्माण करने का प्रयास करने के निर्देश भी मुख्यमंत्री श्री. फडणवीस ने दिए. उन्होंने कहा किपुलिस कल्याण की कई योजनाएं  चलाई जा रही है. विपरीत परिस्थिति में काम करनेवाले और चुनौतियों का सामना करनेवाले पुलिस के साथ सरकार हमेशा खड़ी है. इसलिए पुलिस दल में सुधार और कल्याण की योजनाओं के प्रस्तावों पर तत्काल और  सकारात्मक निर्णय समय समय पर लिए गए है. इसके लिए अधिकाधिक निधि भी उपलब्ध करवाया जाएगा. 
ड्रग्ज के खिलाफ जीरो टॉलरन्स..
परिषद के उद्घाटनपर भाषण में मुख्यमंत्री श्री. फडणवीस  के पुलिस को ड्रग्ज के खिलाफ गंभीरता के साथ कार्रवाई करने के निर्देश दिए है. उन्होंने कहा ड्रग्ज के कारण भावी पीढ़ी बर्बाद हो सकती है. इसलिए इसके बारे में गंभीरता के साथ विचार करने का समय है. इसके लिए आतंकवाद,नक्सलवाद के खिलाफ जितने तीव्रता के साथ कार्रवाई की जाती है उतनीही तीव्रता से ड्रग्ज के खिलाफ कार्रवाई की जानी होगी.  ड्रग्ज के खिलाफ जीरो टॉलरन्स की भूमिका से इस संबंध में कार्रवाई की जाए. इसके लिए आवश्यक होनेपर और प्रभावी नीति तैयार की जाए और कार्रवाई के लिए अलाव यंत्रणा निरमा की जाएऐसे निर्देश भी उन्होंने दिए.
गृह राज्यमंत्री श्री. केसरकर ने कहा, 'पुलिस दल के लिए निधि की कमी न होने के लिए प्रयास किया गया है.  पुलिस अधिकारियों में आर्थिक अधिकारों का विकेंद्रीकरण करने की भूमिका ली गई है. पुलिस के लिए जिला नियोजन मंडल की निधि से  आधुनिकीकरण के लिए साधनसामग्री उपलब्ध करने का प्रावधान किया गया है.

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

[blogger]

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget