छत्रपति शिवाजी महाराज के विचारों की विरासत आगे ले जाने के लिए कटिबध्द - मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे


            पुणे,(टाईम न्युजलाईन नेटवर्क):  यह मेरी सरकार है, यहीं
भावना गरीब, वंचित लोगों के मन में निर्माण होना चाहिए। छत्रपति शिवाजी महाराज के विचारों की विरासत आगे ले जाने के लिए सरकार कटिबध्द रहेगी, यह विश्वास मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे ने इस दौरान व्यक्त किया।
            शहनाई, बाजे की मधुर गूंज, गर्जना, ढोल-ताशे-नगाड़े की आवाज,  केशरी ध्वज (पताका), 'जय भवानी, जय शिवाजी', 'छत्रपति शिवाजी महाराज की जय' के जयघोष से बड़े उत्साह के माहौल में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उप मुख्य मंत्री अजित पवार की उपस्थिति में शिवजन्मोत्सव शिवनेरी किले पर उत्साह से मनाया गया, इस दौरान आयोजित कार्यक्रम में वे बोल रहे थे।
             कार्यक्रम में प्रमुखता से खाद्य एवं नागरी आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल, सार्वजनिक निर्माणकार्य राज्यमंत्री दत्तात्रय भरणे, सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री आदिती तटकरे, सांसद डॉ. अमोल कोल्हे, विधायक अतुल बेनके उपस्थित थे।
            मुख्यमंत्री ठाकरे ने आगे कहा कि हम सभी के मन में शिवविचार है।  माँसाहेब जिजाऊ और छत्रपति शिवाजी महाराज के विचार, उनकी प्रेरणा हमारे साथ हमेशा रहें यह भावना उन्होंने इस दौरान व्यक्त की। शिवनेरी हमारा वैभव है। इस वैभव की विरासत के संवर्धन के लिए और इसे आगे ले जाने के लिए आवश्यक वह सभी प्रयास किए जाएंगे, यह आश्वासन उन्होंने इस दौरान दिया।
            कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज ने सभी समाज के विकास की दिशा बताई। इसी दिशा में सरकार काम कर रही है। शिवनेरी परिसर का विकास आर्थिक प्रावधान की कमी के चलते लंबित न रह सके, इस पर ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि परिसर के विकास कामों के लिए जल्द से जल्द 23 करोड़ रूपए उपलब्ध कराए जाएंगे।
           उन्होंने कहा कि मराठा आरक्षण के समय जो मामले दाखिल हुए है, उसे कानून की कसौटी पर जांच के उन मामलों को वापिस लेने के लिए प्रयास किए जाएंगे। जिन मामलों में सरकारी संपत्ति तथा सार्वजनिक संपत्ति की हानी नहीं हुई है, उन मामलों को नियमों के अधीन रहते हुए वापस लिए जाएंगे,  इस बात को उन्होंने इस दौरान स्पष्ट किया।
          कार्यक्रम के शुरुआत में शिवजन्मस्थान पर महिलाओं ने पारंपरिक वेषभूषा में शिवराय के महत्व जिसमें है, वह लोरी सुनाई। उसके बाद पुलिस टीम  ने बंदुक की तीन फेरी हवां चलाते हुए छत्रपति शिवराय को मानवंदना दी। उसके बाद मुख्यमंत्री ठाकरे, उपमुख्यमंत्री पवार ने बालशिवाजी और माँ जिजाऊं की प्रतिमा पर पुष्पहार अर्पित किया।  
          कार्यक्रम में विभागीय आयुक्त डॉ. दीपक म्हैसेकर, विशेष पुलिस महानिरीक्षक सुहास वारके, जिलाधिकारी नवल किशोर राम, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आयुष प्रसाद, जिला पुलिस अधीक्षक संदीप पाटील समेत बड़ी संख्या में शिवभक्त उपस्थित थे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget